ब्रह्मचारिणी माता की आरती | Brahmacharini Mata Ki Aarti

ब्रह्मचारिणी माता की आरतीBrahmacharini Mata Ki Aarti – नवरात्रि के दुसरे दिन माँ ब्रह्मचारिणी की पूजा आराधना की जाती है. इस दिन ब्रह्मचारिणी माता की पूजा अर्चना श्रद्धा और भक्ति के साथ करें. पूजा के पश्चात भक्तिपूर्वक ब्रह्मचारिणी माता की आरती करें.

आप सबको बता दें की ब्रह्मचारिणी माता की आराधना और पूजा स्तुति के लिए हमने माँ ब्रह्मचारिणी मंत्र का संग्रह प्रकाशित किया हुआ है. इसे आप लिंक पर क्लीक करके अवस्य देखें.

ब्रह्मचारिणी माता की आरती

|| माँ ब्रह्मचारिणी की आरती ||

जय अंबे ब्रह्मचारिणी माता |
जय चतुरानन प्रिय सुख दाता ||

ब्रह्मा जी के मन भाती हो |
ज्ञान सभी को सिखलाती हो ||

ब्रह्म मंत्र है जाप तुम्हारा |
जिसको जपे सरल संसारा ||

जय गायत्री वेद की माता |
जो जन जिस दिन तुम्हें ध्याता ||

कमी कोई रहने ना पाए |
उसकी विरति रहे ठिकाने ||

जो तेरी महिमा को जाने |
रुद्राक्ष की माला ले कर ||

जपे जो मंत्र श्रद्धा दे कर |
आलस छोड़ करे गुणगाना ||

माँ तुम उसको सुख पहुचाना |
ब्रह्मचारिणी तेरो नाम ||

पूर्ण करो सब मेरे काम |
भक्त तेरे चरणों का पुजारी ||

रखना लाज मेरी महतारी ||
जय अंबे ब्रह्माचारिणी माता ||

Brahmacharini Mata Ki Aarti

|| Maa Brahmacharini Ki Aarti ||

Jai Ambe Brahmacharini Mata.
Jai Chaturanan Priya Sukh Data.

Brahma Ji Ke Man Bhati Ho.
Gyan Sabhi ko Sikhlati Ho.

Brahm Mantra Hai Jaap Tumhara.
Jisko Jape Saral Sansara.

Jai Gayatri Ved Ki Mata.
Jo Jan Jis Din Tumhe Dhyata.

Kami Koi Rahne Na Paaye.
Uski Virati Rahe Thikane.

Jo Teri Mahima Ko Jane.
Rdraksh Ki Mala Le Kar.

Jape Jo Mantra Shraddha De Kar.
Aalas Chhor Kare Gungana.

Maa Tum Usko Sukh Pahuchana.
Brahmacharini Tero Naam.

Purn Karo Sab Mere Kaam.
Bhakt Tere Charno Ka Pujari.

Rakhna Laaj Meri Mahtari.
Jai Ambe Brahmacharini Mata.

ब्रह्मचारिणी माता की आरती का महत्व (Importance of Brahmacharini Mata Ki Aarti)

  • नवरात्रि के दुसरे दिन माँ ब्रह्मचारिणी की पूजा की जाती है.
  • ब्रह्मचारिणी माता भी माँ दुर्गा का ही रूप हैं.
  • माँ ब्रह्मचारिणी की पूजा आराधना के लिए ब्रह्मचारिणी माता की आरती अवस्य करनी चाहिए.
  • ब्रह्मचारिणी माता की कृपा पाने के लिए इस आरती के माध्यम से माँ ब्रह्मचारिणी की स्तुति करें.
  • माता ब्रह्मचारिणी अपने भक्तों पर तुरंत कृपा करतीं हैं.
  • माँ ब्रह्मचारिणी की कृपा से मनुष्य के आत्मबल में बृद्धि होती है जिसके फलस्वरूप वह किसी भी परिस्थिति में घबराता नहीं है.
ब्रह्मचारिणी माता की पूजा नवरात्रि के किस दिन की जाती है?

ब्रह्मचारिणी माता की पूजा नवरात्रि के दुसरे दिन की जाती है.

स्कंदमाता की आरती Skandmata Ki Aarti

कुष्मांडा माता की आरती | Kushmanda Mata Ki Aarti

Chandraghanta Mata Ki Aarti – चंद्रघंटा माता की आरती

Shailputri Mata Ki Aarti – शैलपुत्री माता की आरती

Nidhi

इस साईट पर प्रकाशित सभी धार्मिक प्रकाशनों को निधि के द्वारा प्रकाशित किया जाता है. निधि त्योहारों, आरती, चालीसा मंत्र स्तोत्र आदि की अच्छी जानकारी रखती है. बहुत धार्मिक मान्याताओं वाली निधि हमारे इस सेगमेंट को अच्छे से देखती है.
View All Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.