Mahagauri Mata Ki Aarti | महागौरी माता की आरती

Mahagauri Mata Ki Aarti | महागौरी माता की आरती – नवरात्रि के आठवें दिन महागौरी माता की पूजा आराधना की जाती है.

माँ महागौरी की स्तुति करना अत्यंत ही शुभ फलदाई होता है. सम्पूर्ण भक्तिपूर्वक माता की स्तुति करें.

महागौरी माता की आरती

महागौरी माता की आरती

जय महागौरी जगत की माया |
जया उमा भवानी जय महामाया ||

हरिद्वार कनखल के पासा |
महागौरी तेरी वहां निवासा ||

चंद्रकली ओर ममता अंबे |
जय शक्ति जय जय माँ जगंदबे ||

भीमा देवी विमला माता |
कौशिकी देवी जग विख्यता ||

हिमाचल के घर गौरी रूप तेरा |
महाकाली दुर्गा है स्वरूप तेरा ||

सती {सत} हवन कुंड में था जलाया |
उसी धुएं ने रूप काली बनाया ||

बना धर्म सिंह जो सवारी में आया |
तो शंकर ने त्रिशूल अपना दिखाया ||

तभी माँ ने महागौरी नाम पाया |
शरण आनेवाले का संकट मिटाया ||

शनिवार को तेरी पूजा जो करता |
माँ बिगड़ा हुआ काम उसका सुधरता ||

भक्त बोलो तो सोच तुम क्या रहे हो |
महागौरी माँ तेरी हरदम ही जय हो ||

Mahagauri Mata Ki Aarti

Jay Mahagauri Jagat Ki Maya.
Jaya Uma Bhavani Jay Mahamaya.

Haridwar Kankhal Ke Pasa.
Mahagauri Teri Wahan Nivasa.

Chandrakali Or Mamta Ambe.
Jay Shakti Jay Jay Maa Jagdambe.

Bhima Devi Vimla Mata.
Koushiki Devi Jag Vikhyata.

Himachal Ke Ghar Gauri Rup Tera.
Mahakali Durga Hai Swarup Tera.

Sati ( Sat ) Havan Kund Me Tha Jalaya.
Usi dhuyen Ne Rup Kali Banaya.

Bana Dharm Singh Jo Savari Me Aaya.
To Shankar Ne Trishul Apna Dikhaya.

Tabhi Maa Ne Mahagauri Naam Paya.
Sharan Aane Wale Ka Sankat Mitaya.

Shaniwar Ko Teri Puja Jo Karta.
Maa Bigda Hua Kaam Uska Sudharta.

Bhakt Bolo To Soch Tum Kya Rahe Ho.
Mahagauri Maa Teri Hardam Hi Jay Ho.

महागौरी माता की आरती का महत्व (Importance of Mahagauri Mata Ki Aarti)

  • नवरात्रि के आठवें दिन महागौरी माता की आरती करना अत्यंत ही शुभ फलदायक होता है.
  • महागौरी माता माँ दुर्गा की आठवीं शक्ति रूप है.
  • माँ महागौरी की पूजा और आरधना करने से मनुष्य को माता की परम कृपा की प्राप्ति होती है.
  • महागौरी माता अपने भक्तों की सभी कष्टों को दूर करती है.
  • सुहागन महिलायें माता को दुर्गा पूजा अष्टमी के दिन चुनरी अर्पण करती हैं.
महागौरी माता की पूजा नवरात्रि के किस दिन की जाती है?

नवरात्रि के आठवें दिन महागौरी माता की पूजा की जाती है.

माँ दुर्गा के अन्य रूपों की आरती

Shailputri Mata Ki Aarti – शैलपुत्री माता की आरती

ब्रह्मचारिणी माता की आरती – Brahmacharini Mata Ki Aarti

चंद्रघंटा माता की आरती – Chandraghanta Mata Ki Aarti

कुष्मांडा माता की आरती | Kushmanda Mata Ki Aarti

स्कंदमाता की आरती Skandmata Ki Aarti

कात्यायनी माता की आरती Katyayani Mata Ki Aarti

कालरात्रि माता की आरती – Kaalratri Mata Ki Aarti

Nidhi

इस साईट पर प्रकाशित सभी धार्मिक प्रकाशनों को निधि के द्वारा प्रकाशित किया जाता है. निधि त्योहारों, आरती, चालीसा मंत्र स्तोत्र आदि की अच्छी जानकारी रखती है. बहुत धार्मिक मान्याताओं वाली निधि हमारे इस सेगमेंट को अच्छे से देखती है.
View All Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.