Gangaur 2023 : गणगौर उत्सव, गौरी तृतीया, गौरी तीज 2023

Gangaur Festival : In this post we will get information about Gangaur festival. When is Gangaur festival? Gangaur 2023 date, importance of Gangaur festival etc.

गणगौर उत्सव : इस पोस्ट में हम गणगौर उत्सव के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे. गणगौर उत्सव कब है? गणगौर 2023 तारीख तथा गणगौर उत्सव का महत्व आदि.

नमस्कार स्वागत है आप सबका सोनाटुकु डॉट कॉम पर. तो चलिए आज हम गणगौर त्यौहार के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त कर लेतें हैं.

गणगौर उत्सव को गौरी तीज, गौरी तृतीया आदि नामों से भी जाना जाता है. लेकिन अधिकतर लोग इसे गणगौर उत्सव के नाम से ही जानतें हैं.

तो चलिए हम सब सबसे पहले गणगौर उत्सव के बारे में ही कुछ जानकारी प्राप्त कर लेतें हैं. उसके पश्चात हम गणगौर उत्सव 2023 में कब है? (Gangaur 2023) के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे.

गणगौर (Gangaur)

गणगौर मुख्य रूप से राजस्थान, गुजरात, मध्यप्रदेश और हरियाणा में मनाई जाती है. आप सबको बता दें की गणगौर त्यौहार 18 दिनों का त्यौहार है.

यह त्यौहार चैत्र माह के पहले दिन से शुरू होता है और गणगौर तीज के दिन समाप्त होता है.

गणगौर पूजा में महादेव शिव और माता पार्वती की पूजा आराधना की जाती है. महिलायें अपनी पति की लम्बी आयु, कुशलता और सुख समृद्धि के लिए महादेव शिव और माता पार्वती से आशीष मांगती हैं.

विवाहित महिलाओं द्वारा अपने सुखद वैवाहिक जीवन के लिए माता पार्वती से प्रार्थना की जाती है. कुंवारी युवतियां माता पार्वती से अपने लिए एक योग्य वर का आशीष मांगती हैं.

गणगौर पूजा 2023 में कब है? गौरी तीज, गौरी तृतीया 2023 | Gangaur 2023

गौरी तृतीया या गणगौर चैत्र महीने की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाई जायेगी.

साल 2023 में गणगौर या गौरी तीज 24 मार्च 2023, दिन शुक्रवार को मनाई जायेगी.

गणगौर 2023 तारीख24 मार्च 2023, शुक्रवार
Gangaur 2023 Date24 March 2023, Friday

चलिए अब हम सब चैत्र महीने की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि के प्रारंभ और समाप्त होने के समय के बारे में जानकारी प्राप्त करतें हैं.

चैत्र शुक्ल पक्ष तृतीया तिथि के बारे में जानकारी

गौरी तृतीया या गणगौर पूजा चैत्र शुक्ल पक्ष तृतीया तिथि को मनाई जायेगी. इस कारण से हमने यहाँ चैत्र शुक्ल पक्ष तृतीया तिथि के प्रारंभ और समाप्त होने के समय के बारे में जानकारी दी हुई है.

चैत्र शुक्ल पक्ष तृतीया तिथि प्रारंभ23 मार्च 2023, गुरुवार
06:20 pm
चैत्र शुक्ल पक्ष तृतीया तिथि समाप्त24 मार्च 2023, शुक्रवार
04:59 pm

Hartalika Teej date – हरतालिका तीज कब है? सभी जानकारी

गणगौर या गौरी तीज का महत्व (Importance of Gangaur Festival)

  • गणगौर पूजा को गौरी तीज या गौरी तृतीया के नाम से भी जाना जाता है.
  • यह एक अत्यंत ही महत्वपूर्ण उत्सव है.
  • गणगौर त्यौहार में महादेव शिव और माता पार्वती की आराधना और स्तुति की जाती है.
  • विवाहित महिलायें अपनी पति की लम्बी आयु, कुशलता और सुखद वैवाहिक जीवन के लिए महादेव शिव और माता पार्वती से प्रार्थना करती हैं.
  • कुंवारी युवतियां महादेव शिव और माता पार्वती से अपने लिए सुयोग्य वर की प्रार्थना करतीं हैं.
  • धार्मिक मान्यताओं के अनुसार गणगौर त्यौहार को सच्ची श्रद्धा और भक्ति के साथ मनाने से सुख शांति और समृद्धि की प्राप्ति होती है.
गणगौर त्यौहार में किस देवी देवता की पूजा आराधना की जाती है?

महादेव शिव और माता पार्वती की गणगौर त्यौहार में पूजा आराधना श्रद्धा और भक्ति के साथ की जाती है.

गणगौर पूजा कितने दिन का त्यौहार है?

मुख्यतः गणगौर त्यौहार 18 दिनों का त्यौहार है.

इन प्रकाशनों को भी देखें –

Ram Navami Date – राम नवमी कब है? तारीख और शुभ मुहूर्त

हनुमान जयंती कब है? Hanuman Jayanti Date Time puja vidhi

Nidhi

इस साईट पर प्रकाशित सभी धार्मिक प्रकाशनों को निधि के द्वारा प्रकाशित किया जाता है. निधि त्योहारों, आरती, चालीसा मंत्र स्तोत्र आदि की अच्छी जानकारी रखती है. बहुत धार्मिक मान्याताओं वाली निधि हमारे इस सेगमेंट को अच्छे से देखती है.
View All Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.