Guru Purnima 2023 गुरु पूर्णिमा कब है? महत्व, धार्मिक ज्ञान

Guru Purnima 2023 – इस पोस्ट में हम जानेंगे गुरु पूर्णिमा कब है? (When is Guru Purnima?), गुरु पूर्णिमा 2023 तारीख (Guru Purnima 2023 Date) तथा गुरु पूर्णिमा का महत्व (Importance of Guru Purnima).

नमस्कार, स्वागत है आपका sonatuku.com पर.

हमारा देश, हमारी संस्कृती हमें गुरु को भगवान से भी ऊँचा दर्जा देना सिखाती है. गुरु हमारे लिए पूज्यनीय है.

इसलिए तो गुरु की विशेषता में कहा गया है –

गुरुर्ब्रह्मा गुरुर्विष्णुः गुरुर्देवो महेश्वरः।
गुरुरेव परंब्रह्म तस्मै श्रीगुरवे नमः।।

इन श्लोकों का अर्थ है – गुरु ही ब्रह्मा हैं, गुरु ही श्री विष्णु हैं और गुरु ही श्री शिव है. गुरु ही साक्षात् परब्रह्म हैं. ऐसे गुरु को मैं प्रणाम करता हूँ.

यह हमारी संस्कृती है, हमारे वेद, हमारे धार्मिक ग्रंथ, हमारी शिक्षा हमें अपने गुरु को भगवान से भी श्रेष्ठ मानने की शिक्षा देतीं हैं.

इस श्लोक को भी पढ़ें –

गुरु गोबिंद दोऊ खड़े, का के लागूं पाय।
बलिहारी गुरु आपणे, गोबिंद दियो मिलाय।।

इस श्लोक का अर्थ मुझे बताने की आवश्यकता नहीं है. इसका अर्थ आप सब अच्छी तरह से जानतें हैं.

हम सबके लिए गुरु भगवान से भी श्रेष्ठ है. पूज्यनीय है.

गुरु पूर्णिमा हमें अपने गुरु के चरणों में शीश नवाने, गुरु की स्तुति करने, उनकी महता का गुणगान करने का अवसर प्रदान करता है.

हमें सिर्फ गुरु पूर्णिमा पर ही नहीं, बल्कि हर हमेशा ही अपने गुरु के प्रति आदर, सम्मान का भाव रखना चाहिए. गुरुदेव के बताये मार्ग पर चलना चाहिए.

चलिए अब हम सब साल 2023 में गुरु पूर्णिमा कब है? (Guru Purnima 2023 Date) के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे.

गुरु पूर्णिमा कब है? Guru Purnima 2023 date

गुरु पूर्णिमा प्रत्येक वर्ष आषाढ़ महीने की पूर्णिमा तिथि को मनाई जाती है.

साल 2023 में गुरु पूर्णिमा 03 जुलाई 2023, दिन सोमवार को मनाई जायेगी.

गुरु पूर्णिमा 2023 तारीख03 जुलाई 2023, सोमवार
Guru Purnima 2023 Date03 July 2023, Monday

चलिए अब हम सब आषाढ़ महीने की पूर्णिमा तिथि की जानकारी प्राप्त कर लेतें हैं.

आषाढ़ पूर्णिमा तिथि की जानकारी

आषाढ़ माह की पूर्णिमा तिथि को अत्यंत ही पवित्र और शुभ तिथि मानी गई है. इसी तिथि को गुरु पूर्णिमा का शुभ, पवित्र और महत्वपूर्ण उत्सव मनाया जाता है.

चलिए अब हम सब आषाढ़ माह की पूर्णिमा तिथि कब प्रारंभ हो रही है? और कब समाप्त हो रही है? के बारे में जानकारी प्राप्त कर लेतें हैं.

आषाढ़ पूर्णिमा तिथि प्रारंभ02 जुलाई 2023, रविवार
08:21 pm
आषाढ़ पूर्णिमा तिथि समाप्त03 जुलाई 2023, सोमवार
05:08 pm

गुरु पूर्णिमा का महत्व | Importance of Guru Purnima

  • गुरु पूर्णिमा एक अत्यंत ही शुभ, पवित्र और महत्वपूर्ण दिवस है.
  • अपने गुरु की महिमा का गुणगान करने, गुरु की पूजा करने, गुरु की महता का स्मरण करने, गुरु की स्तुति करने, गुरु के बताये गए मार्ग का अनुसरण करने का यह सबसे उत्तम और शुभ दिन है.
  • यह दिन गुरु पूजन को समर्पित है.
  • आप सबकी जानकारी के लिए बता दें की गुरु पूर्णिमा महर्षि कृष्णद्वैपायन वेदव्यास की जयंती के रूप में मनाया जाता है.
  • महर्षि कृष्णद्वैपायन वेदव्यास जी ने महाभारत ग्रंथ की रचना की थी.
  • इस कारण से इस दिवस को व्यास जयंती और व्यास पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है.
  • हमारे देश और धर्म संस्कृती में कई महान गुरु हुए हैं.
  • गुरु शिष्य की परम्परा प्राचीन काल से चली आ रही है.
  • यह दिन अपने अपने गुरुओं को स्मरण करने और उनकी स्तुति करने, आपके जीवन में उनका क्या योगदान रहा है? को स्मरण करने का दिन है.
  • आप सबको बता दें की गुरु पूर्णिमा का बौद्ध धर्म के अनुयायियों के लिए भी बहुत महत्व है.
  • यह दिन बौद्ध धर्म के अनुयायी भगवान गौतम बुद्ध के सम्मान में मनाते हैं.
  • गुरु पूर्णिमा के दिन ही गौतम बुद्ध ने अपना पहला उपदेश सारनाथ में दिया था.

आज के इस अंक में बस इतना ही. आप सब अपने विचार कमेंट बॉक्स में अवस्य लिखें. वेबसाइट का नाम लिखना जरुरी नहीं है.

गुरु पूर्णिमा कब मनाई जाती है?

गुरु पूर्णिमा आषाढ़ महीने की पूर्णिमा तिथि को मनाई जाती है. यह दिन अपने गुरुओं की स्तुति के लिए समर्पित है.

कुछ अन्य महत्वपूर्ण प्रकाशनों को भी अवस्य देखें –

Nidhi

इस साईट पर प्रकाशित सभी धार्मिक प्रकाशनों को निधि के द्वारा प्रकाशित किया जाता है. निधि त्योहारों, आरती, चालीसा मंत्र स्तोत्र आदि की अच्छी जानकारी रखती है. बहुत धार्मिक मान्याताओं वाली निधि हमारे इस सेगमेंट को अच्छे से देखती है.
View All Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.