Mahalakshmi Vrat 2022 – महालक्ष्मी व्रत 2022 तारीख और महत्व

माता महालक्ष्मी को समर्पित महालक्ष्मी व्रत (Mahalakshmi Vrat 2022) के बारे में इस पोस्ट में हम जानकारी प्राप्त करेंगे.

इस पोस्ट में हम जानेंगे महालक्ष्मी व्रत कब है? महालक्ष्मी व्रत 2022 तारीख, महालक्ष्मी व्रत का महत्व तथा कुछ अन्य महत्वपूर्ण धार्मिक जानकारी.

नमस्कार, स्वागत है आपका sonatuku.com पर.

माता महालक्ष्मी को प्रसन्न करने और उनसे धन वैभव का वरदान पाने के लिए महालक्ष्मी का व्रत किया जाता है. इस व्रत में तिथि के अनुसार लगातार 15-17 दिनों तक व्रत किया जाता है.

इस व्रत में माता महालक्ष्मी की पूजा आराधना की जाती है.

चलिए जानतें हैं की साल 2022 में महालक्ष्मी व्रत कब है?

Mahalakshmi Vrat 2022 – महालक्ष्मी व्रत 2022

Mahalakshmi Vrat date

महालक्ष्मी व्रत को भाद्रपद माह की शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को प्रारम्भ किया जाता है.

आप सबकी जानकारी के लिए बता दें की यह तिथि गणेश चतुर्थी के चार दिनों के बाद आती है और इसी दिन राधा अष्टमी भी मनाई जाती है.

महालक्ष्मी व्रत का समापन आश्विन माह की कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को होता है.

इस तरह से तिथि के अनुसार यह 15 से सत्रह दिनों का व्रत होता है.

साल 2022 में महालक्ष्मी व्रत का प्रारंभ 03 सितम्बर 2022, दिन शनिवार को किया जाएगा.

महालक्ष्मी व्रत 2022 प्रारंभ03 सितम्बर 2022, शनिवार
Mahalakshmi Vrat 2022 Start Date03 September 2022, Saturday

साल 2022 में महालक्ष्मी व्रत का समापन 17 सितम्बर 2022, दिन शनिवार को किया जाएगा.

महालक्ष्मी व्रत 2022 का समापन17 सितम्बर 2022, शनिवार
Mahalakshmi Vrat 2022 End date17 September 2022, Saturday

इस तरह से साल 2022 में महालक्ष्मी व्रत में 15 दिन हैं.

महालक्ष्मी व्रत का महत्व

महालक्ष्मी व्रत भाद्रपद माह शुक्ल पक्ष अष्टमी तिथि को प्रारंभ होता है. भाद्रपद माह शुक्ल पक्ष अष्टमी तिथि को बहुत ही शुभ और पवित्र दिन माना गया है.

इसी तिथि को दूर्वा जयंती भी मनाई जाती है और राधा जी की जयंती भी मनाई जाती है.

धार्मिक मान्यता है की महालक्ष्मी माता अपने भक्तों को धन सम्पति और सुख समृद्धि प्रदान करती है.

जीवन से दुःख और दरिद्रता को दूर करती है.

महालक्ष्मी व्रत कब किया जाता है?

महालक्ष्मी व्रत का प्रारंभ भाद्रपद माह शुक्ल पक्ष अष्टमी तिथि को होता है और समापन आश्विन माह कृष्ण पक्ष अष्टमी तिथि को होता है.

आज के इस महत्वपूर्ण प्रकाशन को समाप्त करने की इजाजत दीजिये. कुछ सवाल हो या फिर कुछ सुझाव हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स में लिख सकतें हैं.

कुछ अन्य महत्वपूर्ण प्रकाशनों की सूचि –

Dhanteras Date, Muhurt, Meaning – Dhantrayodashi

Choti Diwali Date, Time, Importance, Narak Chaturdashi

Deepawali Date – When is Diwali, Muhurt

Govardhan Puja Date, Time, Importance

Chhath Puja Date and Time : Chhath Parv Date

Nidhi

इस साईट पर प्रकाशित सभी धार्मिक प्रकाशनों को निधि के द्वारा प्रकाशित किया जाता है. निधि त्योहारों, आरती, चालीसा मंत्र स्तोत्र आदि की अच्छी जानकारी रखती है. बहुत धार्मिक मान्याताओं वाली निधि हमारे इस सेगमेंट को अच्छे से देखती है.
View All Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.