Narali Purnima 2022 Date and Importance, नारियली पूर्णिमा

Narali Purnima 2022 Date, Nariyali Purnima 2022, with Imporatnce.

इस पोस्ट में हम नारियली पूर्णिमा के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे. नारियली पूर्णिमा कब है? नारियली पूर्णिमा 2022 तारीख तथा नारियली पूर्णिमा का क्या महत्व है?

नमस्कार स्वागत है आपका sonatuku.com पर. महाराष्ट्र और अन्य तटवर्ती स्थानों पर नारियली पूर्णिमा (Narali Purnima) बहुत ही श्रद्धा और भक्ति के साथ मनाई जाती है.

नारियली पूर्णिमा में समुद्र और वरुण देव की पूजा की जाती है. वरुण देव और समुद्र को नारियल अर्पण किया जाता है.

इस दिन व्रत करने की भी परम्परा है. व्रत के दौरान फलाहार ही करना पड़ता है साथ ही नारियल का सेवन भी किया जाता है.

नारियली पूर्णिमा (Narali Purnima) में वरुण देव और समुद्र से नाविकों और मछली पकड़ने समुद्र में जाने वालों की सुरक्षा की प्रार्थना की जाती है.

जानिये – Krishna Janmashtami date – श्री कृष्ण जन्माष्टमी कब है? व्रत, पूजा मुहूर्त, पारण समय

चलिए अब हम साल 2022 में नारियली पूर्णिमा कब है? (Narali Purnima 2022) की जानकारी प्राप्त करतें हैं.

Narali Purnima 2022 Date – नारियली पूर्णिमा कब है?

नारियली पूर्णिमा प्रत्येक वर्ष श्रावण महीने की पूर्णिमा तिथि को मनाई जाती है. रक्षा बंधन का त्यौहार भी श्रावण पूर्णिमा तिथि को ही मनाई जाती है. लेकिन गणना के अनुसार इस साल राखी का त्यौहार नारियली पूर्णिमा से एक दिन पहले मनाई जायेगी.

आप ऊपर दिए गए लिंक पर जाकर रक्षा बंधन या राखी के त्यौहार के दिन और मुहूर्त के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकतें हैं.

साल 2022 में नारियली पूर्णिमा (Narali Purnima) का त्यौहार 12 अगस्त 2022, दिन शुक्रवार को मनाई जायेगी.

नारियली पूर्णिमा 2022 तारीख12 अगस्त 2022, शुक्रवार
Narali Purnima 2022 Date12 August 2022, Friday

अब हम सब श्रावण पूर्णिमा तिथि के बारे में जानकारी प्राप्त करतें हैं.

श्रावण माह की पूर्णिमा तिथि

जैसा की आप सबको पता ही है की श्रावण माह की पूर्णिमा तिथि अत्यंत ही पवित्र तिथि होती है.

निचे टेबल के माध्यम से हमने श्रावण माह की पूर्णिमा तिथि को जानकारी दी हुई है.

श्रावण माह की पूर्णिमा तिथि प्रारंभ11 अगस्त 2022, गुरुवार
10:38 am
श्रावण माह की पूर्णिमा तिथि समाप्त12 अगस्त 2022, शुक्रवार
07:05 am

Importance of Narali Purnima

नारियली पूर्णिमा का महत्व

  • नारियली पूर्णिमा प्रत्येक वर्ष श्रावण पूर्णिमा तिथि को मनाई जाती है.
  • वरुण देव को समर्पित नारियली पूर्णिमा अत्यंत ही पवित्र और महत्वपूर्ण व्रत और उत्सव है.
  • इस व्रत में वरुण देव की पूजा अर्चना की जाती है.
  • साथ ही नारियली पूर्णिमा के दिन समुद्र की भी पूजा की जाती है.
  • इस दिन व्रत रखने की भी परंपरा है.
  • इस दिन नारियल खाना अत्यंत ही शुभ माना गया है.
  • साथ ही नारियली पूर्णिमा के दिन नए बृक्ष भी लगाए जातें हैं.
  • नारियली पूर्णिमा प्रकृति से जुड़ा हुआ उत्सव है.
  • वरुण देव और समुद्र से नाविकों और मछली पकड़ने समुद्र में जाने वालों की सुरक्षा की कामना की जाती है.

आज के इस महत्वपूर्ण प्रकाशन में बस इतना ही.

आप अपने सुझाव हमें कमेंट बॉक्स में अवस्य लिखें.

नारियली पूर्णिमा कब मनाई जाती है?

नारियली पूर्णिमा (Narali Purnima) प्रत्येक वर्ष श्रावण महीने की पूर्णिमा तिथि को मनाई जाती है.

कुछ अन्य प्रकाशनों को भी देखें –

Karwa Chauth Date करवा चौथ कब है? तारीख और महत्व

Kokila Vrat Date कोकिला व्रत के बारे में जानकारी

Nidhi

इस साईट पर प्रकाशित सभी धार्मिक प्रकाशनों को निधि के द्वारा प्रकाशित किया जाता है. निधि त्योहारों, आरती, चालीसा मंत्र स्तोत्र आदि की अच्छी जानकारी रखती है. बहुत धार्मिक मान्याताओं वाली निधि हमारे इस सेगमेंट को अच्छे से देखती है.
View All Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.