Parashuram Jayanti 2023 | परशुराम जयंती 2023 कब है?

Parashuram Jayanti – In this post we will get information about Parshuram Jayanti. When is Parshuram Jayanti? Parashuram Jayanti 2023 date and importance of Parshuram Jayanti.

परशुराम जयंती – इस पोस्ट में हम परशुराम जयंती के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे, परशुराम जयंती कब है? परशुराम जयंती 2023 तारीख तथा परशुराम जयंती का महत्व, इसके अलावा अन्य धार्मिक जानकारी.

नमस्कार, स्वागत है आप सबका सोनाटुकु डॉट कॉम पर. भगवान श्री परशुराम जी को श्री विष्णु भगवान का छठा अवतार माना जाता है. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार भगवान श्री परशुराम जी अभी भी जीवित हैं.

हमारे देश में परशुराम जी के प्रति हम सब लोगों में बहुत ही धार्मिक आस्था है.

भगवान श्री परशुराम जी का जन्म त्रेता युग में एक ब्राहमण कुल में हुआ था. उनके पिता का नाम महर्षि जमदग्नि और माता का नाम रेणुका था.

महर्षि भृगु उनके पितामह थे. महर्षि भृगु द्वारा उनका नामकरण अनन्तर राम के रूप में किया गया था. भगवान शिव ने उन्हें परशु प्रदान किया, जिसके कारण वे परशुराम कहलाये.

भगवान परशुराम शस्त्र विद्या और युद्ध कौशल के महान गुरु हैं. श्री परशुराम भगवान के द्वारा ही भीष्म, द्रोण और कर्ण को शस्त्र विद्या प्रदान की गयी थी.

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार भगवान श्री विष्णु जब अपने दसवें अवतार कल्कि के रूप में इस धरती पर अवतार लेंगे तो भगवान श्री परशुराम के द्वारा उन्हें शस्त्र विद्या और युद्ध कौशल का प्रशिक्षण दिया जाएगा. वे कल्कि अवतार के गुरु होंगे.

चलिए अब हम सब 2023 में परशुराम जयंती कब है? (Parashuram Jayanti 2023) के बारे में जानकारी प्राप्त कर लेतें हैं.

Parashuram Jayanti 2023 | परशुराम जयंती 2023 कब है?

श्री परशुराम जयंती प्रत्येक वर्ष वैशाख महीने की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाई जाती है. आप सबको बता दें की इसी दिन अक्षय तृतीया भी मनाई जाती है.

साल 2023 में परशुराम जयंती 22 अप्रैल 2023, दिन शनिवार को मनाई जायेगी.

परशुराम जयंती 2023 तारीख22 अप्रैल 2023, शनिवार
Parshuram Jayanti 2023 Date22 April 2023, Saturday

अब हम वैशाख महीने की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि कब प्रारंभ हो रही और कब समाप्त हो रही है? के बारे में जानकारी प्राप्त कर लेतें हैं.

वैशाख शुक्ल पक्ष तृतीया तिथि के बारे में जानकारी

जैसा की आप सब लोगों को जानकारी हो चुकी है की वैशाख महीने की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को ही परशुराम जी की जयंती मनाई जाती है. इस कारण से हमने यहाँ वैशाख शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि के प्रारंभ और समाप्त होने के समय की जानकारी दी हुई है.

वैशाख शुक्ल पक्ष तृतीया तिथि प्रारंभ22 अप्रैल 2023, शनिवार
07:49 am
वैशाख शुक्ल पक्ष तृतीया तिथि समाप्त23 अप्रैल 2023, रविवार
07:47 am

परशुराम जयंती का महत्व | Importance of Parashuram Jayanti

  • श्री परशुराम भगवान को श्री विष्णु भगवान का छठा अवतार माना जाता है.
  • परशुराम जयंती के दिन हम सब श्री परशुराम जी की जयंती को धार्मिक तरीके से मनाते हैं.
  • यह दिन बहुत ही शुभ और पवित्र दिन होता है.
  • धार्मिक मान्यताओं के अनुसार श्री परशुराम जी अभी भी जीवित हैं.
  • परशुराम भगवान भीष्म, द्रोणाचार्य और कर्ण के गुरु हैं.
  • धार्मिक मान्यता के अनुसार श्री विष्णु के दसवें अवतार कल्कि को भी श्री परशुराम ही शास्त्र और युद्ध कौशल का प्रशिक्षण देंगे.
परशुराम जी को किसका अवतार माना जाता है?

श्री परशुराम जी को भगवान श्री विष्णु का छठा अवतार माना जाता है.

परशुराम जी की जयंती कब मनाई जाती है?

वैशाख महीने की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को परशुराम जयंती मनाई जाती है.

कुछ अन्य प्रकाशन –

हनुमान जयंती Hanuman Jayanti

Surya Jayanti – सूर्य जयंती

Shakambhari Jayanti – शाकम्भरी जयंती

Kaal Bhairav Jayanti – काल भैरव जयंती

Dattatreya Jayanti – दत्तात्रेय जयंती

Geeta Jayanti – गीता जयंती

Annapurna Jayanti – अन्नपूर्णा जयंती

Nidhi

इस साईट पर प्रकाशित सभी धार्मिक प्रकाशनों को निधि के द्वारा प्रकाशित किया जाता है. निधि त्योहारों, आरती, चालीसा मंत्र स्तोत्र आदि की अच्छी जानकारी रखती है. बहुत धार्मिक मान्याताओं वाली निधि हमारे इस सेगमेंट को अच्छे से देखती है.
View All Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.