धनतेरस कब है? धनतेरस 2022 तारीख और शुभ मुहूर्त, पूरी जानकारी

धनतेरस कब है? Dhanteras Meaning, Date, Muhurt धनतेरस अर्थ, तारीख और मुहूर्त – आज के इस पोस्ट में हम धनतेरस त्यौहार के बारे में चर्चा करेंगे.

Read in English

आज के इस पोस्ट में हम धनतेरस कब है? धनतेरस का अर्थ क्या है? धनतेरस की तारीख, धनतेरस शुभ मुहूर्त, धनत्रयोदशी आदि के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे.

तो सबसे पहले हम इस साल धनतेरस कब है? तारीख और शुभ मुहूर्त के बारे में जानकारी प्राप्त कर लेतें हैं. उसके पश्चात हम धनतेरस से संबंद्धित अन्य जानकारी प्राप्त करेंगे.

Dhanteras Kab Hai? धनतेरस कब है?

Dhanteras Kab Hai

धनतेरस का त्यौहार कार्तिक महीने के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि को मनाया जाता है.

यह दिवाली त्यौहार का पहला दिन माना जाता है. इस दिन से ही महापर्व दिवाली की शुरुआत होती है.

Dhanteras 2022 Date धनतेरस 2022 तारीख

इस साल यानी की 2022 में धनतेरस का त्यौहार मंगलवार 22 अक्टूबर 2022 दिन शनिवार को मनाया जायेगा.

धनतेरस 2022 तारीख
Dhanteras 2022 Date
22 अक्टूबर 2022, शनिवार

Dhanteras Muhurt धनतेरस 2022 शुभ मुहूर्त की जानकारी

अब हम इस साल धनतेरस की पूजा का शुभ मुहूर्त क्या है? इसके बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे.

धनतेरस के दिन माता लक्ष्मी की पूजा का सबसे शुभ समय प्रदोष काल में होता है. यह संध्या से शुरू होता है.

प्रदोष काल के साथ अगर आप वृषभ लग्न में धनतेरस में माता लक्ष्मी की पूजा की जाए तो यह सबसे उत्तम माना गया है.

आप सबको बता दें की वृषभ लग्न को स्थिर लगन माना गया है. अगर माता लक्ष्मी की पूजा धनतेरस में प्रदोष काल में स्थिर लग्न में किया जाये तो माता लक्ष्मी का वास उस घर में होता है. माता लक्ष्मी उस घर में स्थिर हो जाती हैं.

इस साल यानी की 2022 में धनतेरस पूजा का शुभ मुहूर्त क्या है? यह निचे टेबल में दिया गया है.

Dhanteras 2022 Muhurt
धनतेरस 2022 मुहूर्त
22 अक्टूबर 2022, शनिवार
सायं 07 : 01 पी एम से लेकर 8 : 17 पी एम तक

आप सबको बता दें की यह शुभ मुहूर्त दिल्ली शहर के हिसाब से बताया गया है. आपके शहर और स्थान के अनुसार इसमें भिन्नता हो सकती है.

अगर आप अपने शहर के लिए शुभ मुहूर्त के बारे में निश्चित नहीं है तो आप 22 अक्टूबर 2022, शनिवार को सायंकाल 07 : 10 पी. एम्. से लेकर 7 : 40 पी एम्.के बिच में पूजा शुरू कर दें. यह सबसे उत्तम और शुभ समय है.

विशेष जानकारी प्राप्त करने के लिए आप किसी ज्योतिष या पंडित से संपर्क कर लें.

Dhantrayodashi धनत्रयोदशी

धनतेरस त्यौहार को धनत्रयोदशी के नाम से भी जाना जाता है.

यह त्यौहार कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि को मनाया जाता है और इस दिन आयुर्वेद चिकित्सा के देवता धन्वन्तरि जी का जन्म दिन भी है. इस कारण से इसे धनत्रयोदशी भी कहा जाता है.

धनतेरस को धन्वन्तरि जयंती और धन्वन्तरि त्रयोदशी भी कहा जाता है.

धनतेरस का अर्थ Dhanteras Meaning

धनतेरस दो शब्दों से मिलकर बना है – ‘धन’ जिसका अर्थ है समृद्धि, और त्रयोदशी का अर्थ होता है महीने का तेरहवीं तिथि.

धतेरस का त्यौहार कार्तिक महीने के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि को मनाया जाता है.

इस दिन आयुर्वेद के भगवान धन्वन्तरि जी की जयंती भी मनाई जाती है.

धनतेरस के दिन माता लक्ष्मी और कुबेर जी की नियमानुसार पूजा करने से धन सम्पति और सुख समृद्धि की बृद्धि होती है. ऐसी धार्मिक मान्यता है.

इस कारण से इस त्यौहार को धनतेरस या धनत्रयोदशी कहा जाता है.

इस दिन सोना -चाँदी खरीदना भी अत्यंत शुभ माना जाता है.

धनतेरस के दिन आप कोई सा भी धातु या बर्तन आदि खरीद सकतें हैं.

इस दिन कोई भी सम्पति खरीदना जैसे की वाहन, जमीन, घर, कहीं निवेश करना आदि अत्यंत ही शुभ माना जाता है.

व्यवसायियों के लिए धनतेरस का दिन अत्यंत ही शुभ और महत्वपूर्ण दिन होता है.

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार धनतेरस के दिन माता लक्ष्मी की पूजा करने से धन संपति में बृद्धि होती है. देवी लक्ष्मी का वास आपके यहाँ होता है.

धनतेरस के दिन से ही दिवाली त्यौहार की शुरुआत होती है.

कुछ जगहों पर इस दिन झाड़ू भी ख़रीदा जाता है.

आज के इस पोस्ट में बस इतना ही. आप अपने विचार हमें कमेंट बॉक्स में लिख सकतें हैं.

आप सभी को धनतेरस की हार्दिक शुभकामनाएं.

कुछ अन्य प्रकाशन –

छोटी दिवाली तारीख, महत्व, Choti Diwali

Deepawali – Diwali Date, Muhurt

Kali Puja – काली पूजा तारीख, महत्व, सम्पूर्ण जानकारी

Govardhan Puja गोवर्धन पूजा तारीख, मुहूर्त, महत्व, कथा

भाई दूज तारीख, शुभ मुहूर्त, महत्व, कहानी

Chhath Puja – छठ पूजा तारीख और अन्य जानकारी

Nidhi

इस साईट पर प्रकाशित सभी धार्मिक प्रकाशनों को निधि के द्वारा प्रकाशित किया जाता है. निधि त्योहारों, आरती, चालीसा मंत्र स्तोत्र आदि की अच्छी जानकारी रखती है. बहुत धार्मिक मान्याताओं वाली निधि हमारे इस सेगमेंट को अच्छे से देखती है.
View All Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.