Ram Navami 2023 Date – राम नवमी 2023 तारीख और शुभ मुहूर्त

Ram Navami 2023 Date – इस पोस्ट में हम राम नवमी 2023 में कब है? तारीख और शुभ मुहूर्त के बारे में बताएँगे.

साथ ही हम राम नवमी के बारे में अन्य बातों को भी प्रकाशित कर रहें हैं जैसे की राम नवमी का महत्व, राम नवमी क्यों मनाई जाती है आदि.

नमस्कार, आपका स्वागत है sonatuku.com में.

आप इसे पोस्ट को भी देखें – हनुमान जयंती कब है? Hanuman Jayanti Date Time puja vidhi

राम नवमी का त्यौहार हम सबका एक प्रमुख त्यौहार है. सम्पूर्ण भारत के साथ विश्व के अन्य देशों में भी भारतियों के द्वारा राम नवमी का त्यौहार काफी हर्ष और उत्साह के साथ मनाया जाता है.

भगवान श्री रामचंद्र जी के जन्म दिवस को हम सब राम नवमी के रूप में मनाते हैं. इस संबंद्ध में हम निचे और जानकारी साझा करेंगे.

पहले हम सब राम नवमी 2023 में कब है (Ram Navami 2023 Date) के बारे में जान लेतें हैं.

Ram Navami 2023 Date – राम नवमी 2023 में कब है?

Ram Navami Date - Ram Navami Kab Hai?

राम नवमी का त्यौहार 2023 में 30 मार्च 2023, दिन गुरुवार को है.

Ram Navami 2023 Date 30 March 2023, Thursday
राम नवमी 202330 मार्च 2023, गुरुवार

राम नवमी का त्यौहार प्रत्येक वर्ष चैत्र महीने की शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को मनाई जाती है.

इस साल यह तिथि 30 मार्च 2023 को पर रही है. इस दिन गुरुवार है और इसी दिन ही राम नवमी का त्यौहार मनाया जायेगा.

राम नवमी के दिन ही चैत्र नवरात्रि की समाप्ति होती है.

त्रेता युग में राक्षसों से इस धरती को मुक्त करने के लिए भगवान श्री विष्णु ने श्री राम जी के रूप में इस धरती पर अवतार लिया था.

अब हम राम नवमी पूजा मुहूर्त के बारे में जान लेतें हैं.

राम नवमी 2023 पूजा मुहूर्त

राम नवमी 2023 मध्याहन पूजा मुहूर्त

30 मार्च 2023 – 10:39 AM से लेकर 01:07 PM तक

अब हम नवमी तिथि के प्रारंभ और समाप्त होने के समय के बारे में जान लेतें हैं.

चैत्र महीने के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि प्रारम्भ और समाप्त होने का समय

जैसा की मैंने आप लोगों को बता दिया है की प्रभु श्री रामचंद्र जी ने चैत्र महीने के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को इस धरती पर अवतार लिया था.

इस कारण से चैत्र महीने के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि के प्रारंभ और समाप्त होने के समय के बारे में जानकारी होना आवस्यक है.

नवमी तिथि प्रारम्भ29 मार्च 2023, बुधवार
09:07 PM
नवमी तिथि समाप्त30 मार्च 2023, गुरुवार
11:30 PM

राम नवमी का महत्व

राम नवमी हमारे धर्म और हमारे देश का एक प्रमुख त्यौहार है. यह वह दिन है जिस दिन इस जगत में मर्यादा पुरुषोत्तम श्री रामचंद्र जी ने इस धरती पर जन्म लिया था.

यह दिन हम सबके लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण दिन है.

हम सब प्रभु श्री रामचंद्र जी के जन्म दिवस को राम नवमी के रूप में सम्पूर्ण श्रद्धा और भक्तिपूर्वक मनाते हैं.

इस दिन पवित्र सरयू नदी में स्नान करने का बहुत अधिक धार्मिक महत्व है.

इसके अलावा इस दिन आप किसी भी पवित्र सरोवर या नदी में स्नान कर सकतें हैं.

चैत्र महीने के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को प्रभु श्री रामचंद्र जी ने राजा दशरथ के यहाँ अयोध्या में जन्म लिया था.

यह बहुत ही पवित्र दिन है. इस दिन ही चैत्र नवरात्री समाप्त होती है.

राम नवमी के दिन क्या करें?

राम नवमी एक बहुत ही पवित्र दिन है. इस दिन आप उपवास भी रखस अक्तें हैं.

प्रातः काल उठ कर स्नान आदि करने के पश्चात सूर्य देव को अर्घ अवस्य दें.

इस दिन अयोध्या के पवित्र सरयू नदी में स्नान करने का भी बहुत अधिक धार्मिक महत्व है.

आप इस दिन राम चरित मानस का पाठ कर सकतें हैं. इसके अलावा आप श्री राम चालीसा, श्री राम रक्षा स्तोत्र आदि का पाठ करें.

सम्पूर्ण भक्ति भाव के साथ श्री राम जी की पूजा अर्चना करें.

इस दिन जुलुस आदि भी निकालें जातें हैं.

बजरंगबली की ध्वजा की भी इस दिन पूजा होती है.

आप भी बजरंगबली हनुमान की ध्वजा की पूजा करने के पश्चात अपने घर पर लगा सकतें हैं.

इस दिन दान पुण्य करने का भी बहुत अधिक धार्मिक महत्व है. आप इस दिन हनुमान चालीसा का भी पाठ अवस्य करें.

राम जी के जन्म दिवस पर राम जी का भजन भये प्रकट कृपाला को भी अवस्य गातें हुए श्री राम जी की स्तुति करें.

आज के इस पोस्ट में बस इतना ही. आप हमें अपने विचार और इस पोस्ट और इस साईट में सुधार के संबंद्ध में कमेंट बॉक्स में लिख सकतें हैं.

इसके अलावा आप हमसे ईमेल के माध्यम से भी संपर्क कर सकतें हैं. हमारा ईमेल एड्रेस आपको अबाउट उस पेज पर मिल जाएगा.

आप सबके सुझाव हमारे लिए अमूल्य होतें हैं.

कमेंट बॉक्स में जय श्री राम अवस्य लिखें.

कुछ और त्योहारों के बारे में जाने –

धनतेरस

शिवरात्रि

होली

छोटी दिवाली

गोवर्धन पूजा

दिवाली

भाई दूज

Nidhi

इस साईट पर प्रकाशित सभी धार्मिक प्रकाशनों को निधि के द्वारा प्रकाशित किया जाता है. निधि त्योहारों, आरती, चालीसा मंत्र स्तोत्र आदि की अच्छी जानकारी रखती है. बहुत धार्मिक मान्याताओं वाली निधि हमारे इस सेगमेंट को अच्छे से देखती है.
View All Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.